Magnificent Trailer Launching Of Hindi Film Ramrajya

Ramrajya means a ideal society, where people of every caste or belief can live without any difference, they live together in love & peace.

Film “Ramrajya” produced by Li-Helious Films, it’s trailer was launched in Andheri, Mumbai in a grand style. Film’s actor Amanprit Singh, Shobhita Rana, Salman Sheikh, Shashvat Pratik, Sandeep Bhojak, Mushtaq Khan were present on the occasion. Beside them writer of film Shivanand Sinha, cretive producer Upendra Chaturvedi, director Nitesh Rai, bussiness head Vikramadity Narayan and with comedian Sunil Pal were also present as special guest.

Producer is Prabir Sinha, Govind Namdeo, Rajesh Sharma and Mukhtar Dekhani will be seen in pivotal role.

     

Writer Shivanand Sinha said, Ramrajya is known from ancient age, where when Shri Ram, was Raja of Ayodhya, there was no difference between rich or poor, he gave justice to every needy person, there was no place for greed, selfishness or religious misunderstanding, he looked everything regarding better education, food, health and cleanliness, also about security of his Rajya. This was Ramrajya.

Same thing has been tried to portrayed in film, even flaws in government bodies has been showed.

*’रामराज्य’ का शानदार ट्रेलर लॉन्च* 

 रामराज्य का अर्थ समाज की एक आदर्श स्थिति जहां लोग अपने धर्म या दर्शन का पालन करते हुए बिना किसी भय और आक्रामकता के साथ शांति और सद्भाव में रह सकते हैं।

ली हीलियस फिल्म्स द्वारा निर्मित हिंदी फिल्म ‘रामराज्य’ का ट्रेलर भव्य रूप से अंधेरी मुम्बई में लॉन्च किया गया। उसी अवसर पर फ़िल्म के कलाकार अमनप्रीत सिंह, शोभिता राणा, शाश्वत प्रतीक, सलमान शेख, संदीप भोजक, मुश्ताक खान के अलावा फिल्म के लेखक शिवानंद सिन्हा, निर्देशक नितेश राय, क्रिएटिव प्रोड्यूसर उपेंद्र चतुर्वेदी, बिजनेस हेड विक्रमादित्य नारायण सहित स्पेशल गेस्ट के रूप में कॉमेडियन सुनील पाल उपस्थित हुए। 

इस फ़िल्म के निर्माता प्रबीर सिन्हा हैं जिसमें गोविंद नामदेव, राजेश शर्मा और मुख्तार देखाणी भी प्रमुख भूमिका में नज़र आएंगे।

ट्रेलर लॉन्च के दौरान शिवानंद सिन्हा ने कहा कि श्री राम, प्राचीन काल में अपने राज्य के भीतर एक संरचना व सिद्धांत को बनाए रखते थे जहां समाज का सबसे कमजोर व्यक्ति राजा से न्याय, सहायता और स्नेह प्राप्त कर सकता था। 

आज हम घृणा, लालच, स्वार्थ, आतंकवाद, रिश्वत, दूसरों के साथ बुरा व्यवहार, सांप्रदायिक मतभेद या दंगा जैसी स्थिति को समाप्त करके अपने देश में एक समान स्थिति लाना चाहते हैं साथ ही न्याय, रोजगार, व्यवसाय को आसान बनाना चाहते हैं। हम बेहतर भोजन, स्वास्थ्य और स्वच्छता, शिक्षा, सामाजिक और राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए भी प्रयासरत हैं। इन्हीं सब बातों को ध्यान में रखते हुए मैंने ‘रामराज्य’ फ़िल्म का स्क्रिप्ट तैयार किया है। इसमें एंटरटेनमेंट संबंधी आवश्यक चीजों का भी ख्याल रखा गया है।

फिल्म “रामराज्य” में हमनें शिक्षा प्रणाली के उदाहरण स्थापित किए हैं जिसमें भौतिक, सामाजिक और सूचना प्रौद्योगिकी के अलावा सच्चा इतिहास, पौराणिक कथाएं, वेद, पवित्र महाकाव्य शामिल होने चाहिए वाली बात रखी गई है।

फ़िल्म में सरकारी या निजी कार्यालयों में रिश्वत या भ्रष्टाचार को खत्म करने की विधि भी दर्शायी गयी है तथा सांप्रदायिक हिंसा और घृणा जैसी गंभीर समस्या का समाधान भी बताने की कोशिश की गई है और इन सभी के पीछे के लोगों का पर्दाफाश किया गया है।

Print Friendly, PDF & Email